beautiful hindi love shayari shayri.page

वो लहू क्या है
रगों में दौड़ते फिरने के हम नहीं क़ाइल
जब आंख ही से न टपका तो फिर लहू क्या है।

" WO LAHU KYA HAI 
RAGO ME DAUDTE - FIRNE KE HUM NAHI KAYLE,
JAB AANKH HI SE NA TAPKA TO FIR LAHU KYA HAI . "