Fool Sabnam me Dub jaate-Gum Shayari



फूल सबनम में डूब जाते है,
झख्म मरहम में डूब जाते है |
जब आते है खत तेरे, हम तेरे गम में डूब जाते है.|

Post a comment

0 Comments