Hai ye Saafar Lamba Hi Sahi-Dua shayari



है ये सफर लंबा ही सही , मिलते रहे हम , हमेशा ,ऐ बेहना…………..
तेरी भी दुआएं सफर में शामिल रहें, ऐ बेहना , ………….
होगयी बिदा तू ,ऐ बेहना , ……………
फिर भी हर सुख – दुःख में वो साथ रही ,ऐ बेहना , …………..
हर लम्हा। हर पल मिलती रहे खुशियाँ तुझे , ऐ बेहना , ………………
दुआएं मेरी भी ये ही रही तुझे , ऐ बेहना , …………….
है ये सफर लंबा ही सही , मिलते रहे हम , हमेशा ,ऐ बेहना………………
देता रहूँ तुझे हमेसा , जो तू चाहे ,ऐ बेहना , ………………..
बांधा है तूने हर दुआओं का बंधन इस राखी में , ऐ बेहना , ……………
अर्ज है इतनी सी उस खुदा से , ऐ बेहना………….
है ये सफर लंबा ही सही , मिलते रहे हम , हमेशा ,ऐ बेहना………….
रहूँ दूर तुझसे भले ही सही , असर है दुआओं में तेरी , ऐ बेहना……………
है ये सफर लंबा ही सही , मिलते रहे हम , हमेशा ,ऐ बेहना………………..

Post a comment

0 Comments