ishq aur dosti meri jindgi ke do jaha- dosti shayari-ishq shayari



☺️☺️☺️☺️☺️

इश्क़ और दोस्ती मेरी ज़िन्दगी के दो जहाँ है
इश्क़ मेरा रूह तो दोस्ती मेरा इमां है
इश्क़ पे कर दूँ फ़िदा अपनी ज़िन्दगी
मगर दोस्ती पे तो मेरा इश्क़ भी कुर्बान है

🥰🥰🥰🥰🥰🥰🥰🥰



Post a comment

0 Comments